माँ और बच्चों पर आधारित कार्यक्रम तू ही रे का दिल्ली में भव्य आयोजन

08 Oct 2018 16:08:28 pm

AR फॉउंडेशन द्वारा 7 अक्टूबर 2018 को गाँधी पीस फॉउंडेशन में,माँ और बच्चों पर आधारित कार्यक्रम तू ही रे का आयोजन किया गया।इस कार्यक्रम में भारतीय मूल्यों व बच्चों की मौलिक शिक्षा पर जोर दिया गया।
कार्यक्रम में 35 देश के अलग अलग हिस्सों से आये व्यक्तियों को  उनके द्वारा समाज के लिए  किये गए कार्यो के लिए सम्मानित किया गया।
जिनमें दिव्यांग प्रतिभाओं में गिनीज बुक रिकार्ड होल्डर, गुलशन कुमार,नेशनल पैरा एथलीट गुलफाम अहमद,राष्ट्रीय दिव्यांग सेना के प्रमुख सचिव नन्हे लाल,दिव्यांग समाजसेवी मुकेश कुमार,व माही चौहान ,प्रमुख रहे।
स्पेशल माँ बच्चों की जोड़ी में नीरजा,अभिनव चौधरी,
कविता कुमार,बेंजी,रागनीशर्मा,उनकी बिटिया आराध्या ,करूपा लोढ़िया ने शिरकत की।
सभी ने माँ और बच्चों के रिश्ते की खूबसूरत बात की।
मुख्य अतिथि विख्यात कवि अशोक अंजुम,व विख्यात इंटीरियर डिज़ाइनर ,समाजसेवी निधि कटारिया जी ,व समाजसेवी संजय बंसल जी रहे।
सहयोगी व खास मेहमान के तौर पर,अमनप्रीत कौर, व पलमिंदर सिंह(बालाजी फिल्म्स)
 संतोष गोयल,प्रदीप जैनी,विपिन गौर,परिमल खत्री, विकास राणा (अंतरराष्ट्रीय स्कीइंग खिलाड़ी)
मनीष मस्त(सिंगर/कॉमेडियन)
व सरिता खुराना (जी खाना खजाना फेम) व राजस्थान बेवार से राखी जांगिड़ ,आलोक सिन्हा, शबाना खान,डायना देवी,विजय लक्ष्मी सिंह,इंदरजीत सिंह ,कांता सीकरी,डॉक्टर सीमा नेगी,राजेश कुमार ,(मिशन न्यूज़) संतोष कुमार पांडे, मैथेमैटिक्स गुरु आर के श्रीवास्तव जी प्रमुख थे।
जिन व्यक्तित्वों को सम्मान दिया गया,उनमें प्रमुख समाजसेवियों में 
रविन्द्र के क्षत्रि (छत्तीसगढ़) गोविंद टांडी(राजस्थान)विक्रम सिंह डाला(हरियाणा)राकेश कुमार (हरियाणा)  डॉक्टर नेहाश्री  श्रीवास्तव (लखनऊ)संकल्प मेहता(देहरादून)रीना सिंगला(अम्बाला)सतीश चंद्र शर्मा(मथुरा) सत्या सिंह(लखनऊ)संजय जोशी(गुजरात)राकेश भारद्वाज (हरियाणा)आशुतोष साहू(ओडिशा)प्रीति राजू(गाज़ियाबाद)शबाना खान(दिल्ली)श्रीनिवास पागा(मुम्बई)चन्द्र प्रकाश वर्मा(बाराबांकी)गिरिजा शंकर(हरियाणा)महासिंह पुनिया(हरियाणा)एम अजॉय सिंह(मणिपुर)बिंदर दनोदा(हरियाणा)डॉक्टर अशोक कुमार वर्मा(कुरुक्षेत्र)विशाल सिंह (लखनऊ) जसवीर सिंह जस्सी (गाज़ियाबाद )से प्रमुख रहे। जूरी के तौर पर अल्पना सुहासिनी(गाज़ियाबाद)कमला सिंह जीनत(बिहार) सविता राणा भारती(चंडीगढ़)एकता कौशिक (गाज़ियाबाद) से शामिल हुई
कार्यक्रम का उद्देश्य  दिव्यांग सशक्तिकरण व उनकी सहायता के लिए लोगो व सरकार को जागरूक करना एवम भारतीय मूल्यों व विरासत को अपने बच्चों की जड़ो में कैसे रोपित कर उनको एक सही इंसान बनाये रहा।
AR फाउंडेशन की फाउंडर सेक्रेटरी नीलिमा ठाकुर का मानना है, की हमें अपने बच्चों को शुरू से सीख देनी मानवता और परसेवा की सीख देनी चाहिए।
ताकि वो बड़े होकर इसी पथ पर चल सके।सभी को प्रेम और सौहाद्र को अपने जीवन मे अपनाना चाहिए।
कियुकि मनुष्य जीवन एक बार मिलता है, इसमे कुछ ऐसा कार्य करे कि आपके कार्यो से समाज ,परिवार और देश का भविष्य उज्ज्वल हो सम्मानित हो।
समाज को ऐसे अथक कार्यो की नितांत आवश्यकता है।

मुख्य समाचार