अलग-थलग पड़ी BCCI, रेवेन्यू और गवर्नेंस मामले में मिली हार

26 Apr 2017 20:01:05 pm

दुबई
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद में बीसीसीआई के प्रभाव को बड़ा झटका लगा जब आईसीसी की बोर्ड बैठक में वह बुधवार को अलग-थलग पड़ गया जहां बहुमत में संचालन और राजस्व ढांचे में बदलाव के पक्ष में मतदान किया गया।

दुबई में आईसीसी बोर्ड बैठक के पहले दिन संचालन ढांचे में बदलाव के अलावा नए राजस्व मॉडल को भी मतदान के लिए रखा गया। बीसीसीआई ‘संचालन और संवैधानिक बदलावों’ पर मतदान 1-9 से हार गया जबकि बड़े टकराव का कारण रहे राजस्व मॉडल पर भारत के पक्ष में सिर्फ दो जबकि विपक्ष में आठ मत पड़े। बीसीसीआई के पक्ष में सिर्फ श्री लंका ने मतदान किया।

दुबई में मौजूद बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा, 'हां, मतदान खत्म हो गया है। यह राजस्व मॉडल के पक्ष में 8-2 और संवैधानिक बदलावों के पक्ष में 9-1 से रहा।'

उन्होंने कहा, 'बीसीसीआई ने दोनों के खिलाफ मत दिया क्योंकि सैद्धांतिक तौर पर हम कहते रहे हैं कि ये सभी बदलाव हमें पूरी तरह से अस्वीकार्य हैं। फिलहाल हम यही कह सकते हैं कि हमारे लिए सभी विकल्प खुले हैं। हमें विशेष आम बैठक में सदस्यों को स्थिति की जानकारी देनी होगी।' पता चला है कि बीसीसीआई के अतिरिक्त 10 करोड़ डॉलर की राजस्व पेशकश सिरे से खारिज करने के बाद एक बार फिर उसे 29 करोड़ डॉलर का शुरुआती विकल्प दिया गया जो उसे पिछले साल तक मिल रहे 57 करोड़ डॉलर से 28 करोड़ डॉलर कम है।

 

मुख्य समाचार