बेटी की पढाई से लेकर शादी तक जितना पैसा खर्च होगा मोदी सरकार देगी, आज ही भरे यह फ़ार्म

28 May 2019 19:29:03 pm

सुकन्या समृद्धि योजना- बच्चियों के लिए 2015 में शुरू की गई सरकार की एक ऐसी योजना जिससे उनकी पढ़ाई और शादी तक के खर्चों के लिए बचत की जा सकती है। बहुत अच्छे रिटर्न्स हैं इसपर। ब्याज काफी अच्छे रेट पर मिल रहा है। टैक्स में छूट भी है। जानिए वो सब कुछ जो आपको जानना चाहिए इस योजना के बारे में।

क्या है सुकन्या समृद्धि योजना? बेटियों के लिए स्मॉल सेविंग स्कीम यानी छोटी बचत योजना का नाम है। वो बेटियां जिनकी उम्र 10 साल से कम है। अगर आपके घर में, आपके आस-पास भी कोई ऐसी बच्ची है जिसकी उम्र 10 साल से कम है तो उसका अकाउंट खुल सकता है इस योजना में।

कैसे खुलता है अकाउंट? आपको अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस या सरकारी बैंक में जाना होगा। पोस्ट ऑफिस कोई भी हो सकता है। सरकारी बैंकों के अलावा प्राइवेट बैंको में आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक में भी ये सुविधा उपलब्ध है। वहां जाइए, फॉर्म लीजिए, भरिए। जो डॉक्यूमेंट मांगे गए हैं, वो लगाइए। आप अपनी बच्ची के लिए ये अकाउंट खुलवा सकते हैं। अगर आप उसके गार्जियन हैं, तब भी ये अकाउंट आप खुलवा सकते हैं। शर्त ये है कि बच्ची भारत की नागरिक होनी चाहिए।

 आपका आधार कार्ड। आवास प्रमाण पत्र। बच्ची का जन्म प्रमाण पत्र। ये जन्म प्रमाण पत्र हॉस्पिटल, ग्राम पंचायत, या नगरपालिका यानी म्युनिसपैल्टी से बनवाया जा सकता है। सुकन्या समृद्धि योजना में अकाउंट खुलवाने के लिए जो फॉर्म आता है, वो भी साथ में लगेगा। अकाउंट खुलेगा तो आपको उसकी एक पासबुक मिल जाएगी। उसमें खाते की पूरी जानकारी होगी। इसे संभाल कर रखिएगा।

1000 रुपए जमा करके खाता खुल जाएगा। हर साल कम से कम 250 रुपए जमा करने होंगे। पहले हर साल कम से कम 1000 रुपए जमा करने थे खाते में। अब ये लिमिट घट कर 250 रुपए हो गई है। ये इसलिए किया गया है ताकि जो लोग थोड़ी-थोड़ी रकम जमा करना चाहते हैं, उन पर कोई दबाव ना पड़े। इसमें से पैसे निकाले नहीं जा सकते जब तक लड़की 18 साल की ना हो जाए।

कब निकाल सकते हैं? जब से आपने अकाउंट खोला है, तब से लेकर 14 साल तक इसमें पैसे डिपोजिट किए जा सकते हैं। बच्ची 10 साल की हो जाएगी, उसके बाद खुद से भी जाकर पैसे जमा करा सकती है, अपना अकाउंट ऑपरेट कर सकती है। जब वो 18 साल की हो जाएगी, तो अकाउंट फिर वही ऑपरेट करेगी यानी चलाएगी, उसी के साइन वगैरह मान्य होंगे। मान लीजिये आपने 2018 में एक अकाउंट खुलवाया। इस अकाउंट में आपको 2032 तक डिपाजिट करना होगा। 2039 में ये अकाउंट मैच्योर हो जाएगा। यानी इसपर सुकन्या समृद्धि की ब्याज दर लगनी बंद हो जाएगी।

मुख्य समाचार