बहुमुखी प्रतिभा की धनी हैं दीप्ति उदय खुटवाल

28 May 2019 16:30:02 pm

मुंबई में आयोजित सौन्दर्य प्रतियोगिता पनाश मिस एंड मिसेज इंडिया की Mrs Congeniality 2019 की विजेता व अन्य विभिन्न प्रतिभाओ की धनी फ़िल्मो में काम कर चुकी दीप्ति उदय खुटवाल  से "सत्यबन्धु भारत" की "व्यक्ति नहीं व्यक्तित्व" कालम में बात चीत के कुछ खास अंश -
बहुमुखी प्रतिभाओ की धनी और थाने की जानी मानी शक्सियत जिन्होंने अपने हौसलो और आत्मविश्वास के दम पर अपनी एक पहचान बनाई है वह कहती हैं कि जीवन में विभिन्न स्तर पर अलग अलग प्रकार की जिम्मेदारी या होती हैं इन सबके बीच एक जिम्मेदार महिला लोगों की इच्छा और खयाल रखते रखते खुद को और खुद की इच्छाओ और रुचि को भूल जाती है लेकिन हमें ऐसा नहीं करना चाहिए हमे सभी का खयाल रखने के साथ साथ अपनी प्रतिभा, रुचि, इच्छाओ को भी ध्यान रखना चाहिए क्योंकि अगर हम किसी भी चीज को अपने मन में दबा लेते है या भुला देते हैं तो वह अंदर ही अंदर हमे परेशान करती हैं और उसका रिएक्शन गलत होता है. दीप्ति कहती हैं मैं थाने महाराष्ट्र की रहने वाली हूं. मुझे बचपन में माता पिता खास कर दादी का बहुत लाड प्यार मिला. प्रारंभिक शिक्षा के बाद मैने स्नातक मनोविज्ञान से पूर्ण किया और शादी के बाद अभी भी मैं मनोविज्ञान से परास्नातक कर रही हूं.शुरू से ही मैं खेल में बहुत रुचि रखती थी मेरा पसंदीदा खेल बैटमिन्टन था जिसमे मैने बहुत से पुरस्कार जीते. इसके अतिरिक्त मुझे क्राफ़्ट का भी शौक था मैने न्यूज पेपर क्राफ़्ट,पेन स्टैन्ड, फ़्लावर, टी कोस्टर आदि वस्तुए बनाती रही तथा अन्य लोगों को भी इसके लिए प्रेरित किया. 

दीप्ति खुटवाल कहती हैं कि एक महिला परिवार का ही नहीं अपितु राष्ट्र निर्माता भी होती है अतः उसका स्वस्थ रहना बहुत ही आवश्यक है. मैं प्रतिदिन स्वस्थ रहने के लिए योगा और वाकिन्ग करती हूं क्योंकि एक स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क निवास करता है. 

दीप्ति खुटवाल ने अपनी लाइफ़ का पहला कदम मराठी फ़िल्म "बासरी" में बहू का किरदार कर उठाया था जिसमे समाज को यह संदेश देने प्रयास किया गया था कि सीखने के लिए उम्र का लिहाज करना नहीं चाहिए उसके बाद 

दीप्ति अपने सौंदर्य जगत में बढ़ते कदमों के बारे में कहती हैं कि जहाँ चाह वहा राह जब मैं विभिन्न प्रकार की सौदर्य प्रतियोगिताओ के बारे में देखती तो मेरा भी मन कुछ कर गुजरने को बेताब हो जाता था मेरे भी दबे सपने ऊफ़ान मारने लगते थे और इस राह पर जब मुझे पता चला कि गोवा में एक बहुत ही अद्भुत प्रतियोगिता एम्प्रेस युनीवर्स अंतर्राष्ट्रीय सौन्दर्य प्रतियोगिता 2018 आयोजित की जा रही है तो मैने भी इस प्रतियोगिता में अपने को साबित करने की ठान ली मुश्किल सफ़र, कठिन डगर लेकिन इरादे मजबूत थे. इस प्रतियोगिता में लगभग 18000 हजार महिलाओ ने दावेदारी पेश की जिसमे मैं थाने सिटी रनर अप  बनी इसके बाद राज्य, देश स्तर के पडाव पार करके राष्ट्रीय स्तर के मंच पर मिस इंडिया व फ़िल्म अभिनेत्री महिमा चौधरी द्वारा मुझे सम्मानित किया गया जो मेरे लिए अविस्मरणीय पल था. इसके अतिरिक्त रोटरी क्लब थाने जनवरी 2019 में मिसेज थाने सेकेण्ड रनर अप तथा विभिन्न उपलब्धियो के लिए थाने की मेयर मीनाक्षी सिन्धे द्वारा भी सम्मानित किया गया. 
अभी हाल ही में सेव चाइल्ड गर्ल की मुहिम पर आयोजित राष्ट्रीय स्तर की सौन्दर्य स्पर्धा में जिसका आयोजन Panaache ने करवाया था , में Mrs Congeniality title से सम्मानित किया गया इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि फ़िल्म अभिनेता प्रेम चोपड़ा जी थे.. 

आपके न्यूज पोर्टल के माध्यम से मैं महिलाओ से एक ही बात कहना चाहूगी कि सभी के प्रति जिम्मेदारी अदा करने के साथ खुद के सपनो और रुचियों के प्रति भी जिम्मेदारी अदा करे और जीवन के हर पल को जम के जिये, जो भी आपकी रुचि है उसके लिए समय अवश्य निकाले 
सबके जीवन को सवारने के साथ खुद के जीवन को भी सवारे उसके साथ नाइंसाफ़ी बिल्कुल न करे

मैं एक बार फिर अपनी फ़ैमली को इन सभी सफ़लताओ के लिए आभारी हूँ कि उनके समर्थन से ही ऐसा सम्भव हो पाया 

मुख्य समाचार